-->

Monday, June 15, 2020

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2020 - थीम, इतिहास ओर केसे महत्वपूर्ण है योग हमारे लिए


अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2020 - थीम, इतिहास ओर केसे महत्वपूर्ण है योग हमारे लिए। 
योग हमारी दैनिक जीवन का एक हिस्सा है। योग का अर्थ है एकता । योग हमारी व्यवहारिक स्तर पर , शरीर ,मन को संतुलन बनाने का साधन है।

     अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2020 

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2020 की थीम


  • अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कब शुरू हुआ था?
  • हर साल की योग दिवस की थीम
  • अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 2020 की थीम
  • डिजिटल होगा इस बार का योग दिवस 
  • योग क्यों महत्वपूर्ण है हमारे लिए


अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कब शुरू हुआ था?

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून का मनाया जाता है।
अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस को 11 सितम्बर 2014 को सयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्य देशों द्वारा 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मानने के प्रस्ताव को मंजूरी मिली थी। इसके बाद 2015 से 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। 
छठा अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस इस बार मनाया जाएगा।


हर साल की योग दिवस की थीम 

2015 - सदभाव ओर शांति के लिए योग (yoga for Harmony and peace)
2016 - युवाओं को जोड़े (connect the youth)
2017 - स्वास्थ्य के लिए योग (Yoga for Health)
2018 - शांति के लिए योग ( Yoga for peace)
2019 - पर्यावरण के लिए योग (Yoga for climate)

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 2020 की थीम 

2020 योग दिवस थीम - घर पर योग ओर परिवार के साथ योग (Yoga at home and yoga with family)


डिजिटल होगा इस बार का योग दिवस 

Corona महामारी के कारण अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस इस बार डिजिटल रूप से मनाया जाएगा। 21 जून को सभी अपने अपने घरों से ही  योग दिवस पर डिजिटल रूप से जुड़ेंगे।
सरकार ने इस बार डिजिटल माध्यम से योग दिवस मनाने का विचार किया है। इस बार योग दिवस पर लोग फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर के माध्यम से योग दिवस को मनाएंगे ।

योग क्यों महत्वपूर्ण है हमारे लिए 

योग से हमारे शरीर, मन ओर आत्मा  को नियंत्रित किया का सकता है।
यह मानसिक अवसाद को दूर करता है।
पाचन शक्ति को मजबूत करता है।
मोटापे को कम करता है।
शरीर को ऊर्जावान बनाता है।
शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।
एकाग्रता को बढ़ाता है।

0 comments:

Post a Comment

thanks


rajasthan gk

Labels

Popular Posts

Categories

Blog Archive

Search This Blog