-->

Saturday, May 23, 2020

सीकर जिला सामान्य ज्ञान

               सीकर जिला सामान्य ज्ञान                                        सीकर जिला

सीकर प्राचीन में वीरभान नाम का ग्राम था। सीकर पर बीकानेर राठौड़ वंश का शासन था। सीकर की स्थापना शिवसिंह ने की थी।


कांतली नदी - कांतली नदी का उदगम स्थल सीकर के समीप रेवासा गांव की खंडेला की पहाड़ियां है। यह एक आंतरिक प्रवाह की नदी है।

गणेश्वर सभ्यता - कांतली नदी के किनारे पर गणेश्वर सभ्यता की खोज हुई थी। यह हड़प्पा कालीन सभ्यता है। इस सभ्यता को ताम्र युगीन सभ्यता की जननी कहते है।

सीकर की हवेलियां भिती चित्रों के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है
पंसारी की हवेली - श्री माधोपुर।
बैजनाथ रुइया की हवेली - रामगढ़
खेमका ओर गोयनका की हवेली - रामगढ़
 बीनानियो की हवेली - लक्ष्मणगढ़
पोद्दारों की हवेली - सीकर
कोड़िया व राठी की हवेली - लक्ष्मण गढ़ 
नन्दलाल देवड़ा की हवेली - सीकर


जीण माता का मंदिर - यह मंदिर रेवासा सीकर के पास 10 वी शताब्दी का मंदिर है। जीण माता को मधुमक्खियों की देवी कहा जाता है। कहा जाता है जब औरंगजेब ने इस मंदिर पर आक्रमण किया था तब मधुमक्खियों ने उन पर हमला कर के इस मंदिर की सुरक्षा की थी। यहां वर्ष में दो बार मेले का आयोजन होता है । यहां ढाई प्याला शराब चढाई जाती थी।
राजस्थानी लोक गीतों में जीण माता का लोकगीत सबसे लंबा है।
हर्ष नाथ का मंदिर - यह पर्वत रेवासा गांव में स्थित हर्ष की पहाड़ियों में स्थित है। इस मंदिर में लिंगोद्भव शिव की मूर्ति स्थापित है।

खाटू श्याम जी का मंदिर - यह सीकर के पास खाटू ग्राम में स्थित है। यह मंदिर भगवान श्री कृष्ण का श्याम रूप का है। इस मंदिर में भगवान श्री कृष्ण के शीश की पूजा होती है तथा मुखाकृति दाढ़ी युक्त है। कृष्ण जन्माष्टमी को यहां मेले का आयोजन होता है।

 सप्त गोशाला मंदिर - रेवासा सीकर में स्थित यह मंदिर राजस्थान का पहला ओर देश का चोथा मंदिर है।

लक्ष्मणगढ़ दुर्ग - राव लक्ष्मण सिंह ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था , यह दुर्ग बेड़ की पहाड़ी ओर स्थित है।

 डूंगजी जवाहर जी - यह दोनों चाचा भतीजा थे। इन्होंने 1857 की क्रांति में अहम योगदान दिया था। सीकर के पाटोदा गांव के थे। यह अमिरो से धन लूटकर गरीबों को दिया करते थे इनको  गरीबों का लोक देवता कहा जाता है


सकराय माता मंदिर - इन्हे शाकम्बरी माता कहते है। यह खंडेलवालो की कुल देवी है

प्रीतमपुरी - सीकर जिले में स्थित मीठे पानी की झील
काछोर - सीकर में स्थित खारे पानी की झील

                        महत्वपूर्ण तथ्य
देश का सबसे बड़ा बकरी पालन उद्योग बलेखन सीकर में स्थित है।
एमू पालन के लिए प्रसिद्ध - किरडोली गांव सीकर
राजस्थान का प्रथम कृषि विज्ञान केन्द्र - फतेहपुर शेखावाटी में स्थित है।
राजस्थान का प्रथम शहीद स्मारक सीकर में है।
सलमा सितारों की नगरी - खंडेला सीकर
सेठो का नगर - रामगढ़
गीदड़ नृत्य - सीकर
गुहाला गांव - पुरातात्विक स्थल

0 comments:

Post a Comment

thanks


rajasthan gk

Labels

Popular Posts

Categories

Blog Archive

Search This Blog