-->

Friday, May 8, 2020

बीकानेर जिला सामान्य ज्ञान

            बीकानेर जिला सामान्य ज्ञान

                         बीकानेर जिला
  • बीकानेर जांगल प्रदेश का भू भाग है
  • बीकानेर की स्थापना 1465 ई में करनी माता के आशीर्वाद से जोधपुर महाराजा राव जोधा के पुत्र राव बीका ने की थी 
  • बीकानेर की प्रथम राजधानी कोडमदेसर थी
  • बीकानेर को राती घाटी के नाम से जाना जाता है
  • जूनागढ़ दुर्ग - इस दुर्ग का निर्माण महाराजा रायसिंह ने कराया था इस दुर्ग को जमीन का जेवर ओर 20 वी शताब्दी से पहले इसे चिंतामणि दुर्ग के के नाम से जाना जाता था।
  • इस दुर्ग के बारे में कहा जाता है कि "दीवारों के कान होते है पर इस दुर्ग की दीवारें बोलती है"
  • जूनागढ़ दुर्ग के सुरजपोल में वीर जयमल मेड़तिया ओर फता सिसोदिया की हाथी पर सवार मूर्तियां स्थित है
  • महाराजा रायसिंह को देवी मुंशी प्रसाद ने राजपूताना का कर्ण कहा
  • रानेरी गांव - मरुधर पावर प्र. लि. की सहायता से निजी क्षेत्र में स्थापित देश का प्रथम लिग्नाइट आधारित बीजलीघर
  • भांडासर का जैन मंदिर -  भांडा नाम एक ओसवाल महाजन ने 1411 ई में इस मंदिर का निर्माण कराया था कहा जाता है कि इसकी नींव घी से भरी हुई है 
  • कतरियासर - यह जसनाथी सम्प्रदाय की प्रमुख पीठ है इस सम्प्रदाय के लोग अग्नि नृत्य करते है और नृत्य करते समय फते फते के नारे लगाते है
  • लालगढ़ पैलेस - इस पैलेस का निर्माण महाराजा गंगा सिंह ने अपने पिता लालसिंह की स्मृति में कराया था यह मुख्यत लाल पत्थरों से बना हुआ है
  • अनूप संस्कृत लाइब्रेरी - यह लाइब्रेरी लालगढ़ पैलेस में स्थित है
  • सार्दुल संग्रहालय - यह संग्रहालय जूनागढ़ दुर्ग में स्थित है
  • कोलायत - यह स्थान सांख्य दर्शन के प्रणेता महर्षि कपिल मुनि की तपोभूमि है यहां कपिल मुनि का मेला कार्तिक मास पूर्णिमा को लगता है
  • गजनेर अभ्यारण्य - यह मुख्यत तितरो के लिए प्रसिद्ध है 
  • इसी अभ्यारण्य में गजनेर झील स्थित है
  • करनी माता मंदिर - यह मंदिर देशनोक बीकानेर में है इसको चूहों की देवी कहते है यहां सफेद चूहे को काबा कहा जाता है
  • यह चारणो की कुल देवी है यह बीकानेर राठौड़ वंश की आराध्य देवी है 
  • राठौड़ वंश की कुल देवी - नागणेची माता 
  • मुकाम - यह गुरु जम्भेश्वर जी तपोभूमि है यह विश्नोई समाज का प्रमुख तीर्थ स्थल है 
  • बीकानेर संग्रहालय - इसमें सिंधु घाटी सभ्यता से लेकर गुप्तवंश के संग्रह है






                          महत्वपूर्ण तथ्य

  1. राज्य का  बिना नदी वाला जिला - बीकानेर
  2. एशिया की सबसे बड़ी ऊन मंडी - बीकानेर
  3. अलखसागर - जिले का सबसे बड़ा कुआ
  4. कोडमदेसर के भेरूजी - बीकानेर
  5. विमला कोशिक - पानी वाली बहन जी, जल संक्षरण को बढ़ावा दिया है
  6. डोड़ाथोरा - यहां पर लघु पाषाण काल की पुरातात्विक सामग्री मिली है
  7. राष्ट्रीय ऊंट अनुसंधान केन्द्र - जोहड़बिड बीकानेर
  8. केमल मिल्क डेयरी - जोहड़बीड बीकानेर
  9. देवकुंड की छतरीया - बीकानेर के राठौड़ के शाही श्मशान 
  10. जिप्सम की सबसे बड़ी खान - बिसरासर 
  11. इंदिरा गांधी नहर के जनक - कंवर सेन
  12. सिंह पर सवार गणेश जी की मूर्ति - हेरांब गणेश जी बीकानेर
  13. सावन भादो कड़ाई - बीकानेर
  14. सिंहथल - राम स्नेही सम्प्रदाय की पीठ - इसके संस्थापक हरिदास जी थे
  15. ऊंट महोत्सव - बीकानेर
  16. राष्ट्रीय खजूर अनुसंधान केन्द्र - बीकानेर 
  17. स्टेन वूलन मिल्स - बीकानेर 
  18. बीकानेर की ऊनी दरिया और गलीचे प्रसिद्ध है
  19. मथेरन कला - बीकानेर 
  20. बीकानेर जंतुआलय की स्थापना 1922 में हुई थी 
  21. सरेमिक कॉम्पलेक्स प्रयोगशाला - बीकानेर
  22. राजस्थान कृषि विश्व विद्यालय - बीकानेर, अब इसका नाम बदलकर स्वामी केशवानंद विश्व विद्यालय कर दिया गया है
  23. बरसिंगसर - ताप विद्युत परियोजना 
  24. लिग्नाइट आधारित ताप विद्युत परियोजना - पलाना 
  25. हुरडा सम्मेलन में भाग लेने वाला राजा - जोरावर सिंह
  26. राजस्थान में सर्वाधिक मूंगफली उत्पादन - लूणकरणसर बीकानेर
  27. लक्ष्मी नारायण मंदिर का निर्माण राव लूणकरण द्वारा करवाया गया 
  28. राव लूणकरण को कलयुग का कर्ण कहा गया यह संज्ञा बिठु सुजा ने दी
  29. ऊंट की खाल पर की गई कारीगरी ओर नकाशी - उस्त, इसके जनक  हिजामुद्दिन उस्ता
  30. बीकानेर की पुंगल नस्ल की भेड़ प्रसिद्ध है






2 comments:

thanks


rajasthan gk

Labels

Popular Posts

Categories

Blog Archive

Search This Blog